ऐसा क्या हुआ था टाटा इंडिका कार लॉन्चिंग को लेकर जो रतन टाटा के सारे मित्र हो गए थे उनसे अलग, जानिए इसके पीछे की पूरी कहानी

Must Read

जब आप कुछ अलग करना चाहते हैं तो इस मार्ग में अनेकों रुकावटें आती हैं लेकिन मंज़िल तक वही पहुंचता है जो इन रुकावटों को अपनी ताकत बना ले। ऐसा ही कुछ देश के जाने माने उद्योगपति रतन टाटा के साथ भी हुआ, जब उन्होंने भारत की पहली स्वदेशी कार को लॉन्च करने का फैसला किया। इस मार्ग में रतन टाटा के सामने अनेकों रुकावटें आईं लेकिन रतन टाटा ने कभी हार नहीं मानी और देश की पहली स्वदेशी कार इंडिका को लॉन्च किया।

इंडिका की लॉन्चिंग के कारण रतन टाटा के मित्र हो गए थे उनसे अलग

दरअसल रतन टाटा ने भारत की पहली स्वदेशी कार को लॉन्च करने का फैसला लिया था। वह इस कार को पूर्णत: भारत में बनाना चाहते थे। गाड़ी के छोटे से बड़े हरेक पुर्जे को रतन टाटा भारत में बना रहे थे। लेकिन इस प्रयास में सफलता हासिल होगी या नहीं इस बात की कोई गारंटी नहीं थी। इसलिए रतन टाटा के मित्रों ने उनसे दूरी बना ली थी क्यूंकि उनके मित्रों को लगता था कि रतन टाटा का यह विचार नाकाम हो जाएगा। इसलिए जब इस कार की लॉन्चिंग हुई तो रतन टाटा खुद को अकेला महसूस कर रहे थे।

ratan
फोटो-इंस्टाग्राम/RatanTata

इंडिका ने भारत में जमाया अपना सिक्का और कर दी सबकी बोलती बंद

उसके बाद रतन टाटा ने अकेले ही इस प्रोजेक्ट पर काम किया और 1998 तक उन्होंने अपना यह प्रोजेक्ट पूरा किया। प्रोजेक्ट पूरा होने के 1 साल बाद ही टाटा इंडिका को लॉन्च किया गया और अपनी लॉन्च के कुछ दिन बाद ही टाटा इंडिका ने सफलता को हासिल करना शुरू कर दिया। धीरे धीरे इंडिका लोगों के दिलों में अपनी जगह बनाती चली गई। लेकिन 2018 में इसका उत्पादन बंद कर दिया गया। एक रिपोर्ट के अनुसार वित्त वर्ष 2018 में टाटा इंडिका की करीब ढाई हज़ार यूनिट बाज़ार में बिकी थी।

Indica
फोटो-इंस्टाग्राम/RatanTata

पूर्ण रूप से स्वदेशी गाड़ी है टाटा इंडिका

बता दें कि टाटा इंडिका पूरी तरह से स्वदेशी गाड़ी है। गाड़ी के सभी पुर्जे भारत में ही बनाए गए हैं। यह भारत की पहली स्वदेशी गाड़ी है। जिसे लोगों ने खूब पसंद किया था। रतन टाटा के इस फैसले को कई लोगों ने गलत समझा लेकिन आज इस गाड़ी की सफलता ने उन सभी को करारा जवाब दे दिया है जो इस फैंसले को गलत मानते थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

बिना कोचिंग के पूरे आत्मविश्वास के साथ पहले ही प्रयास में पास की यूपीएससी की परीक्षा, जानिए सफलता का राज

यूपीएससी परीक्षा को हर साल कई परीक्षार्थी देते हैं कुछ परीक्षार्थियों को सफलता पाने में लंबा समय लग जाता...

More Articles Like This

Citymail India