Thursday, June 24, 2021

कश्मीर की कला को आरिफा ने फिर दिया जीवनदान, राष्ट्रपति से मिला नारी शक्ति पुरस्कार

Must Read

NEW DELHI : साल 2020 में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अलग अलग फील्ड में काम करने वाली काम करने वाली महिलाओं को नारी शक्ति पुरस्कार देकर सम्मानित किया। इनमें कई ऐसी महिलाएं भी शामिल थी जिन्होंने अपने हुनर के जरिए कश्मीर का नाम पूरी दुनिया में पहुंचा दिया। आरिफा जान इन महिलाओं में से एक थी।

कश्मीर की नमदा कला को दोबारा किया जीवित

आरिफा जान ने कश्मीर की नमदा कला को दोबारा से जीवित कर दिया। नमदा कालीन बनाने की हस्तकला है। जिसमें डिजाइनिंग करके कालीन को तैयार किया जाता है। कश्मीर की यह हस्तकला एक तरह पूरी तरह से लुप्त होने की कगार है। आरिफा बताती है कि किसी भी लुप्त होने की कगार पर खड़ी क ला को दोबारा से जीवित करना काफी मुश्किल काम होता है। लेकिन उन्होंने प्रयास नहीं छोड़े।

आरिफा ने छिप छिप कर किया ये कोर्स

आरिफा बताती है कि उन्होंने क्राफ्ट डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट से पढ़ाई की। अपनी इस पढ़ाई का इस्तेमाल उन्होंने समाज के लिए किया। वह बताती है कि पहले उन्होंने छिप छिप कर कालीन बनाने का कोर्स किया। इसके बाद उन्होंने 100 महिलाओं को कालीन बनाने की ट्रेनिंग दी। वह बताती है कि अभी उनके कालीन बनाने 15 लोग काम करते है। जिसमें आठ पुरुष और सात महिलाएं शामिल है।

कला के जरिए लोगों को भी मिला रोजगार

आरिफा बताती है इस कला के जरिए उन्होंने लोगों को रोजगार भी दिया। वह कहती है कि इस कला के माध्यम से उन्हांने सबसे अधिक युवाओं को जोडऩे का काम किया। क्योंकि बेरोजगार युवाओं के भटकने का सबसे अधिक डर रहता है। वह गलत रास्ते पर चले जाते है। ऐसे में युवाओं को अपनी हस्तकला की मार्केटिंग करने पर लगाया गया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी कर चुके है तारीफ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी आरिफा जान की तारीफ कर चुके है। आरिफा जान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बताया था कि उन्होंने अपनी इस कला को न केवल पूरे देश में बल्कि विदेश में भी पहुंंचाया। अब उनके पास इस कालीन के विदेश से भी ऑर्डर आ रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

अजब लिव इन गजब शादी, 40 साल एक दूसरे के साथ रहने के साथ 65 की उम्र में रचाई शादी

New delhi : भारत में शादी सात जन्मों का बंधन माना जाता है। सात फेरे लगवाए जाते है। सात...

More Articles Like This

The Citymail - Hindi